मेरे चहेते मित्र

Saturday, March 23, 2013

बिहार दिवस


खुश हूँ मै तो आज बस
है किसी का जन्म दिवस 

सारा  शहर सजा रखा है 
दिल को अपने खिला  रखा है 

मेलों सा माहौल है 
 जाने कितने लगे स्टाल है 

हर पसंद का टेस्ट है 
कोई लेता नहीं आज रेस्ट है 

सभी घूम के आयेंगे 
बिहार दिवस मनाएंगे 

मंत्री जी का भाषण होगा 
लेज़र शो प्रदर्शन होगा 

राज्य गीत को गायेंगे 
बिहार गौरव गान सुनायेंगे  

व्यंजन का मेला  सा होगा 
खाने वालों का रेला सा होगा 

एक  छोटा नाटक बनायेंगे 
उसमें औरत को दिखायेंगे 

राजन साजन मिश्र इति 
शास्तरीय संगीत सुनायेंगे 

मन ना भरे जो सुन्ने से पहले 
कत्थक नृत्य तुम देख लेना 

आज के दिन तुम मेरे भाई 
उदास न होना यही बस 

आओ घुम कर आते है 
मानते है बिहार दिवस 

सोनू निगम का गीत होगा 
खूब डांस संगीत होगा 

मुशायेरा के प्रतिभागी  होंगे 
नाशाद औरंगाबादी होंगे 

 मुशायेरों से दिल जो  ना भरे 
तो  हास्य कवी सम्मलेन की और चलें 

हँसते हँसते पेट में बल जो आये 
रूककर थोर व्यंजन खाएं 

लिट्टी हो चोखा 
 किसने है तुमको रोका 

खूब मजे से खायेंगे 
आज बिहार दिवस मनायेगे 





4 comments:

  1. आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार (24-03-2013) के चर्चा मंच 1193 पर भी होगी. सूचनार्थ

    ReplyDelete
  2. बहुत सुन्दर ...
    पधारें " चाँद से करती हूँ बातें "

    ReplyDelete
  3. ............. अनुपम भाव संयोजन

    Recent Post शब्दों की मुस्कराहट पर पुरानी डायरी के पन्ने : )

    ReplyDelete

Post a Comment

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...